About Me

देवेंद्र मेवाड़ी
  • 7 मार्च 1944 को ग्राम कालाआगर, पट्टी-चौगढ़, जिला नैनीताल (उत्तराखंड) में जन्म।
  • एम.एस-सी. (वनस्पति विज्ञान), एम.ए. (हिंदी), पत्रकारिता में स्नातकोत्तर डिप्लोमा।
  • विगत 45 वर्षों से हिंदी में नियमित रूप से विज्ञान लेखन, अनुवाद और संपादन।
  • प्रमुख कृतियांः ‘नाटक-नाटक में विज्ञान’, ‘बंजारा विज्ञान मन’, ‘विज्ञान की दुनिया’ (बाल विज्ञान), ‘विज्ञान और हम’, ‘विज्ञाननामा’, ‘मेरी यादों का पहाड़’ (आत्मकथात्मक संस्मरण), ‘मेरी विज्ञान डायरी’ (भाग-1), ‘मेरी विज्ञान डायरी’ (भाग-2), ‘मेरी प्रिय विज्ञान कथाएं’, ‘भविष्य’ तथा ‘कोख’ (विज्ञान कथा संग्रह), ‘विज्ञान की दुनिया’, ‘सौरमंडल की सैर’,  ‘विज्ञान बारहमासा’, ‘विज्ञान प्रसंग’, ‘सूरज के आंगन में’, ‘फसलें कहें कहानी’, ‘विज्ञान जिनका ऋणी है’ (भाग-1 तथा भाग-2), ‘अनोखा सौरमंडल’, ‘पशुओं की प्यारी दुनिया’, ‘हार्मोन और हम’ आदि।। हमारे पक्षी, जीन और जीवन, कहानी रसायन विज्ञान की (अनुवाद)।
  •  तेरह वर्ष तक मासिक कृषि पत्रिका ‘किसान भारती’ का संपादन। ‘विज्ञान प्रसार’ फैलो (2007-08)।
  • आकाशवाणी तथा टेलीविजन के लिए विज्ञान नाटक पटकथा लेखन / वार्ताएं, वैज्ञानिक विषयों पर व्याख्यान।
  • हिंदी अकादमी दिल्ली के  ‘ज्ञान-प्रौद्योगिकी सम्मान’ (2016) से सम्मानित।
  • उत्कृष्ट विज्ञान लेखन के लिए प्रतिष्ठित ‘आत्माराम पुरस्कार’ (2005),
  • राष्ट्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी संचार परिषद् (विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग, भारत सरकार) का राष्ट्रीय पुरस्कार (2000),
  • भारतेंदु हरिश्चंद्र राष्ट्रीय बाल साहित्य पुरस्कार, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय (1994-99 तथा 2002),
  •  मेदिनी पुरस्कार, पर्यावरण एवं वन मंत्रालय (2009),
  • उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान पुरस्कार (1978-79),
  • विज्ञान परिषद प्रयाग द्वारा स्तरीय विज्ञान लेखन के लिए सम्मानित (1986) तथा ‘विज्ञान’ का ‘देवेंद्र मेवाड़ी सम्मान अंक’ प्रकाशित (2006)।
  • सदस्यः ‘रक्षा उत्पादन विभाग की हिंदी सलाहकार समिति’ (रक्षा मंत्रालय) , भारत सरकार,
  • विगत तीन वर्षों से विद्यालयों में जाकर आप हजारों बच्चों को विज्ञान की कहानियां सुना चुके हैं।