Currently browsing category

Vigyan Diary

Meri Vigyan Diary

13015154_10205948307898339_7638101663022060172_n

ऐ सरज़मीं तुझे सलाम 

स्याह रातों में कभी तारों भरा आसमान देखा है आपने? अगर हां तो आसमान में आरपार फैली कहकशां और उसके चमकते बेशुमार …

pexels-photo-1024960

प्यार का राग सुनो रे ऽऽ

दो और दो आंखें चार होने पर जब मन ही मन उनमें एक-दूसरे पर न्योछावर हो जाने की अनुभूति जाग उठती है …

लियोनिंड उल्कावृष्टि

वह धातु इस धरती की नहीं

यह खबर पढ़ कर मैं हैरान रह गया था कि जर्मनी के वैज्ञानिक डा. एल्मर बुकनर और उनके सहयोगी वैज्ञानिकों ने धातु …

पहरे पर टैडी

बालकनी में बिटिया की बगिया का नौ-बजिया खतरे में है। और, खतरा भी किससे? सीधे-सादे कबूतर से! पहले पता नहीं था कि …

russetsparrow_2732017_sattal_59x2751a

आओ गौरेया, आओ

12 मार्च 2010 घर कब बसाएंगी गौरेया मेरी आगे की बालकनी में रोज सुबह गौरेयां चहचहाती हैं। सुना है इनका चहचहाना शुभ …

indian-alphonso-mango

आम के नाम

आज चंद पंक्तियां आम के नाम। आम तो बस आम है। इसका कोई जवाब नहीं। खास ही नहीं, आम आदमी का भी …

superstition_052614122609

 चोटीकाट चालू आहे

मानसिक उन्माद, फिर एक बार! अब सुना है, मुंबई में चोटीकाट का कारनामा शुरू हो गया है। हे, मेरे देश, कब छंटेगा …

26March11 257fa

यहां एक पेड़ था

यहां एक पेड़ था, वो क्या हुआ? महानगर दिल्ली में आया था तो उस चौराहे पर पीपल का एक बड़ा पेड़ था। …

Sita-Ashok_(Saraca_asoca)_flowers_in_Kolkata_W_IMG_414611111

खिल गया है सीता- अशोक

  आज अचानक नारंगी-लाल रंग के खूबसूरत फूलों से लदे सीता-अशोक को देखा तो देखता ही रह गया। इसे हमारे देश का …