Currently browsing category

Vigyan Diary

Meri Vigyan Diary

लियोनिंड उल्कावृष्टि

वह धातु इस धरती की नहीं

यह खबर पढ़ कर मैं हैरान रह गया था कि जर्मनी के वैज्ञानिक डा. एल्मर बुकनर और उनके सहयोगी वैज्ञानिकों ने धातु …

पहरे पर टैडी

बालकनी में बिटिया की बगिया का नौ-बजिया खतरे में है। और, खतरा भी किससे? सीधे-सादे कबूतर से! पहले पता नहीं था कि …

russetsparrow_2732017_sattal_59x2751a

आओ गौरेया, आओ

12 मार्च 2010 घर कब बसाएंगी गौरेया मेरी आगे की बालकनी में रोज सुबह गौरेयां चहचहाती हैं। सुना है इनका चहचहाना शुभ …

indian-alphonso-mango

आम के नाम

आज चंद पंक्तियां आम के नाम। आम तो बस आम है। इसका कोई जवाब नहीं। खास ही नहीं, आम आदमी का भी …

superstition_052614122609

 चोटीकाट चालू आहे

मानसिक उन्माद, फिर एक बार! अब सुना है, मुंबई में चोटीकाट का कारनामा शुरू हो गया है। हे, मेरे देश, कब छंटेगा …

26March11 257fa

यहां एक पेड़ था

यहां एक पेड़ था, वो क्या हुआ? महानगर दिल्ली में आया था तो उस चौराहे पर पीपल का एक बड़ा पेड़ था। …

Sita-Ashok_(Saraca_asoca)_flowers_in_Kolkata_W_IMG_414611111

खिल गया है सीता- अशोक

  आज अचानक नारंगी-लाल रंग के खूबसूरत फूलों से लदे सीता-अशोक को देखा तो देखता ही रह गया। इसे हमारे देश का …

17202803_10208270273266022_3095349092313845711_n

टिहरी के उस गांव में

बेटे मनु ने पूछा, “चार दिन की छुट्टियां हैं। कहीं बाहर चलें?” मैंने कहा, “जरूर चलें।” “आपको कैसी जगह पसंद है?” “ऐसी …