pexels-photo-1024960

प्यार का राग सुनो रे ऽऽ

दो और दो आंखें चार होने पर जब मन ही मन उनमें एक-दूसरे पर न्योछावर हो जाने की अनुभूति जाग उठती है तो लगता है शायद प्यार के गणित को समझने का समय आ गया है। और, इसके साथ ही किशोरावस्था में प्यार के तमाम गुणा-भाग के सवालों को सुलझाने …

 आइए, सुनिए किस्सा-ए-कद

हमें खबर ही नहीं और पता लगा है, हमारी लंबाई बढ़ रही है। यह कोई सुनी-सुनाई नहीं बल्कि, जांची-परखी खबर है। खुद …

manohar-shyam-joshi

विज्ञान के मनोहरश्याम जोशी

आज (9 अगस्त) प्रसिद्ध लेखक मनोहरश्याम जोशी जी का  जन्मदिन है। विज्ञान लेखकों की जिस पीढ़ी ने सन् साठ-सत्तर में लोकप्रिय पत्रिका …

Neelakurinji (2)

लो फिर बहार आई

  दक्षिण भारत में बारह वर्ष बाद फिर बहार के दिन आ गए हैं। पश्चिमी घाट की ऊंची पहाड़ियों पर प्रकृति अपनी …